Microprocessor क्या है | इसके कार्य क्या है | What is Microprocessor in Hindi 2023

Microprocessor कंप्यूटर आर्किटेक्चर का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है जिसके बिना आप अपने कंप्यूटर पर कुछ भी नहीं कर पाएंगे। माइक्रोप्रोसेसर कंप्यूटर का Central unit है जो arithmetic और logic operation करता है जिसमें generally संख्याओं को जोड़ना, घटाना, संख्याओं को एक क्षेत्र से दूसरे क्षेत्र में ले जाना और दो संख्याओं की तुलना करना शामिल होता है। इसे अक्सर प्रोसेसर, सेंट्रल प्रोसेसिंग यूनिट या लॉजिक चिप के रूप में संदर्भित किया जाता है।

एक माइक्रोप्रोसेसर में ट्रांजिस्टर, रजिस्टर और डायोड जैसे कई घटक होते हैं जो Display करने के लिए एक साथ आते हैं। technology development के साथ चिप की क्षमता और अधिक Complex हो गई है। कार्यक्षमता बेहतर हो गई है और गति तेज़ हो गई है। तो इस article में जानेगे की Microprocessor क्या है इसीलिए ये Article ध्यान से पढ़ो। Microprocessor के कार्य क्या है? और Microprocessor के types क्या है? ये भी इस article में in detail पता चलेगा।

Microprocessor क्या है | What is microprocessor in hindi

एक Microprocessor वाला डिजिटल कंप्यूटर होता है जो CPU के रूप में कार्य करता है, इसे माइक्रो कंप्यूटर कहते है। यह एक प्रोग्राम करने योग्य, Multipurpose, Clock driven, Register-based इलेक्ट्रॉनिक Device है जो मेमोरी स्टोरेज Device से बाइनरी instructions को पढ़ता है, बाइनरी डेटा को इनपुट के रूप में स्वीकार करता है और उन instructions के अनुसार डेटा को processed करता है और आउटपुट के रूप में Result प्रदान करता है।

एक Microprocessor में एक ALU, Control unit और Register Array होता है। जहां ALU किसी इनपुट Device या मेमोरी से प्राप्त डेटा पर Arithmetic और logical operations करता है। Control Unit कंप्यूटर के inside instructions और डेटा के प्रवाह को नियंत्रित करती है।

Microprocessor की पीढ़िया | Generation Of Microprocessor in hindi

पहली पीढ़ी (4-bit माइक्रोप्रोसेसर): पहली पीढ़ी के माइक्रोप्रोसेसरों को वर्ष 1971-1972 में Intel Corporation द्वारा पेश किया गया था। इसका नाम Intel 4004 रखा गया क्योंकि यह 4-बिट प्रोसेसर था। यह एक सिंगल चिप पर आधारित प्रोसेसर था। यह Addition, Substraction, बूलियन OR और बूलियन AND जैसे simple Arithmatic और Logical operations कर सकता है।

दूसरी पीढ़ी (8-Bit माइक्रोप्रोसेसर): दूसरी पीढ़ी के माइक्रोप्रोसेसरों को 1973 में Intel द्वारा फिर से पेश किया गया। यह पहला 8-bit माइक्रोप्रोसेसर था जो 8-bit शब्दों पर Arithmatic और logical operations कर सकता था। यह Intel 8008 था, और दूसरा advanced version Intel 8088 था

तीसरी पीढ़ी (16-bit माइक्रोप्रोसेसर): 1978 में पेश की गई तीसरी पीढ़ी के माइक्रोप्रोसेसरों को Intel के 8086, Zilog Z800 और 80286 द्वारा दर्शाया गया था, जो मिनी कंप्यूटर जैसे Performance वाले 16-bit प्रोसेसर थे।

चौथी पीढ़ी (32-bit माइक्रोप्रोसेसर): कई अलग-अलग कंपनियों ने 32-bit माइक्रोप्रोसेसर पेश किए, लेकिन सबसे लोकप्रिय Intel 80386 है।

पांचवीं पीढ़ी (64-bit माइक्रोप्रोसेसर): 1995 से अब तक हम पाँचवीं पीढ़ी में हैं। 80856 के बाद, Intel एक नया प्रोसेसर लेकर आया, जिसका नाम Pentium Processor था, जिसके बाद Pentium Pro CPU आया, जो एक ही सिस्टम में कई CPU को मल्टीप्रोसेसिंग प्राप्त करने की अनुमति देता है।

Microprocessor के कार्य क्या है | What is the function of Microprocessor in hindi

माइक्रोप्रोसेसर तीन Steps में काम करता है –

  • फ़ेच(Fetch): – Instructions स्टोरेज में होते हैं जहां से प्रोसेसर उन्हें लाता है।
  • डिकोड(Decode): – इसके बाद यह आगे कार्य सौंपने के Instructions को डिकोड करता है। इस दौरान Arithmatic और logic unit डेटा को Temporary रूप से registered करने का कार्य भी करती है।
  • Execute करें Instructions कार्य Execution से गुजरते हैं और बाइनरी रूप में आउटपुट port तक पहुंचते हैं।

Microprocessor की विशेषताएं क्या है | What is the Features Of microprocessor in hindi

  • इसकी Cost कम है क्योंकि यह Integrated Circuit Technology का उपयोग करता है जिससे कंप्यूटर सिस्टम की total cost कम हो जाती है।
  • यह कम Heat उत्पन्न करता है क्योंकि semiconductor vaccun tube Devices की तुलना में कम heat उत्सर्जित करते हैं।
  • Advance Technology के कारण माइक्रोप्रोसेसर की गति बहुत तेज़ होती है, जो हर सेकंड लाखों Instructions को Executed करता है।
  • Metal Oxide Semiconductor technology के कारण यह कम बिजली की Consumed करता है।
  • इसका छोटा आकार और कम बिजली की Consumed से इसे पोर्टेबल भी बनाती है।
  • कम footprint के कारण यह आकार में छोटा है लेकिन इसमें बड़े measures पर एकीकरण technology है।
  • इसकी प्रकृति versatile है क्योंकि यह कई अनुप्रयोगों के लिए प्रयोग योग्य है।
  • माइक्रोप्रोसेसर की Failure दर बहुत कम होती है और यह कंप्यूटर सिस्टम के लिए विश्वसनीय बन जाता है।
Microprocessor kya hai

Microprocessor के types क्या है | What are the types of microprocessor in hindi

Complex Instruction Set Microprocessors

CISM सिस्टम को सपोर्ट करने के लिए ऑर्डर के साथ-साथ डाउनलोडिंग, अपलोडिंग आदि जैसी अन्य low-level गतिविधियों का भी ध्यान रख सकता है। यह केवल एक कमांड से complex mathematical calculations भी कर सकता है।

Reduced Instruction Set Microprocessor

RISC का उद्देश्य छोटे विशिष्ट कमांडों को तेज गति और उच्च customization पर implemented करना है। सरल आदेशों और समान लंबाई के कारण निर्देश सेट छोटा है। वे रजिस्टर जोड़कर मेमोरी संदर्भों को कम करते हैं।

Explicitly Parallel Instruction Computing

EPIC, RISM और CISM का मिश्रण है, जिसमें दोनों प्रोसेसर की बेहतरीन विशेषताएं हैं। वे बिना किसी निश्चित Width के समानांतर Instructions का पालन करते हैं। वे compilers को अनुक्रमिक शब्दार्थ का उपयोग करके हार्डवेयर के साथ संचार करने में सक्षम बनाते हैं।

Superscalar Microprocessors

Superscaler प्रोसेसर एक साथ कई कार्य करने का समर्थन करता है। वे usually ALUs या मल्टीप्लायरों में मौजूद होते हैं क्योंकि वे कई कमांड ले जाने में सक्षम होते हैं। वे प्रोसेसर के अंदर instruction प्रसारित करने के लिए विभिन्न operational units का उपयोग करते हैं।

Application Specific Integrated Circuit

Automotive emission control उपयोग या व्यक्तिगत डिजिटल सहायक के रूप में ASIC common हैं। उनकी architecture बहुत सही ढंग से specified है लेकिन साथ ही off-the-shelf गियर के साथ बनाई गई है।

Digital Signal Multiprocessors

DSPs वीडियो फ़ाइलों को Encoding और Decode करने या एनालॉग को डिजिटल में transfer करने और इसके विपरीत के लिए प्रसिद्ध हैं। वे mathematical calculations के लिए उत्कृष्ट हैं। राडार, होम थिएटर, सोनार आदि कार्य Execution के लिए इन चिप्स का उपयोग करते हैं। इंटेल, मोटोरोला, डीईसी आदि कंपनियों ने ऐसे कई माइक्रोप्रोसेसर बनाए हैं।

SIMD Processors

Single Instruction Multiple डेटा क्रमानुसार के बजाय समानांतर में तत्वों का उपयोग करके vectors में calculations के लिए हैं। उनके पास एक से अधिक ALU हैं और उनमें से प्रत्येक में डेटा storage के लिए एक स्थानीय मेमोरी है।

Symbolic Processors

Symbolic प्रोसेसर मुख्य रूप से विशेषज्ञ systems, मशीन/कृत्रिम बुद्धिमत्ता और पैटर्न पहचान के लिए हैं। उन्हें कार्य करने के लिए Floting-point operations की आवश्यकता नहीं है।

Bit-Slice Processors

Bit-Slice प्रोसेसर में users की पसंद के अनुसार विशिष्ट शब्द लंबाई और बिल्डिंग ब्लॉक होते हैं। उनके पास 4-bit ALU, जनरेटर और माइक्रो प्रोग्राम sequencer हैं।

Transputers

Transputers माइक्रोप्रोसेसर चिप रैम और सीरियल लिंक आदि जैसे आंतरिक घटकों के management के लिए प्रसिद्ध हैं। संचार लिंक उन तत्वों में से एक है जो सभी transputers को जोड़ते हैं।

Graphics Processors

इंटेल द्वारा एक माइक्रोप्रोसेसर जो high डेफिनिशन गेम और फिल्मों के लिए बनाया गया है।

Microprocessor के फायदे क्या है | What are the advantages of Microprocessor in Hindi

  • उच्च गति processing
  • सिस्टम में Intelligence लाता है
  • स्वभाव से flexible है
  • एक Compact आकार है
  • maintain रखना आसान है

Microprocessor के नुकसान क्या है | What are the disadvantages of microprocessor in hindi

  • Continous उपयोग के कारण overheating हो जाती है।
  • डेटा का आकार Performance तय करता है
  • माइक्रोकंट्रोलर से बड़ा है
  • Floating-point ऑपरेशन का समर्थन नहीं करता

FAQs:

Microprocessor कैसे बनते हैं?

माइक्रोप्रोसेसर, जिन्हें कंप्यूटर चिप्स भी कहा जाता है, लिथोग्राफी नामक प्रक्रिया का उपयोग करके बनाए जाते हैं।

Microprocessor का आविष्कार कब हुआ था?

इंटेल ने 1971 में पहला वाणिज्यिक माइक्रोप्रोसेसर, 4-bit Intel 4004 पेश किया था। 


भारत का पहला Microprocessor कौन सा है?

शक्ति भारत का पहला माइक्रोप्रोसेसर है जिसे IIT (भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान) चेन्नई के छात्रों द्वारा डिजाइन और विकसित किया गया है। 

Conclusion

दोस्तो उम्मीद करते है कि आप को हमारा यह Article अच्छा लगा होगा। आशा करते है की आपको Microprocessor क्या है और Microprocessor के types क्या है।  इसकी जानकारी समझ आ गई होगी। Microprocessor के कार्य क्या है।आपको इसके बारे में पूरी जानकारी इस Article में मिली होगी। यदि आपके मन में इस article को लेकर कोई भी doubts हैं या आप चाहते हैं की इसमें कुछ सुधारना होनी चाहिए तब इसके लिए आप नीचे Comments में बता सकते हैं। आपको यह Article कैसा लगा हमें Comment मे जरूर बताना।

आपके विचारों से हमें कुछ नया सीखने और कुछ गलतिया सुधारने का मौका मिलेगा। यदि आपको हमारी यह post Microprocessor क्या है और Microprocessor के types क्या है। Microprocessor के कार्य क्या है। यह अच्छा लगा हो या इससे आपको कुछ सिखने को मिला हो तो कृपया इस पोस्ट को अपने सभी दोस्तो के साथ और Social Networks जैसे कि WhatsApp, Facebook, Twitter इत्यादि पर share कीजिये।

धन्यवाद…!!!

इसे भी पढे

कृपया अपनी राय दे और अपना सवाल पूछे.......